education-cbse-board-exam-2020-to-be-conducted-with-self-centre-check-important-announcement-by-hrd-minister-dr-ramesh-pokhriyal-nishank-for-class-12-and-10-remaining-papers

CBSE Board Exams 2020: लॉकडाउन खुलने के चार दिन बाद शुरू होगी कॉपियों की जांच, बाकी पेपर की डेटशीट भी जल्द होगी घोषित

CORONA VIRUS Edu Blog

CBSE Board Exams 2020: सेंट्रल बोर्ड ऑफ सेकेंडरी एजुकेशन (CBSE) ने बोर्ड परीक्षाओं से लेकर मूल्यांकन प्रक्रिया शुरू करने के लिए अब तैयारियां तेज कर दी हैं।

CBSE Board Exams 2020: सेंट्रल बोर्ड ऑफ सेकेंडरी एजुकेशन (CBSE) ने बोर्ड परीक्षाओं से लेकर मूल्यांकन प्रक्रिया शुरू करने के लिए अब तैयारियां तेज कर दी हैं। इसके मुताबिक बोर्ड ने साफ कर दिया है कि जैसे ही लॉकडाउन ख्त्म होगा उसके चार दिन बाद से बोर्ड परीक्षा की कॉपियों की जांच शुरू कर दी जाएगी। इसके साथ ही बची हुई बोर्ड परीक्षाओं के लिए डेटशीट भी घोषित कर दी जाएगी। यह जानकारी प्रिंसिपलों के साथ ऑनलाइन बैठक में सीबीएसई परीक्षा नियंत्रक डॉ. संयम भारद्वाज ने दी है। इस मीटिंग में देश भर के 100 से ज्यादा स्कूलों के प्रिंसिपल ने हिस्सा लिया था। इस दौरान परीक्षा नियंत्रक ने कई अन्य अहम मुद्दों पर प्रिंसिपलों से बात की।

उन्होंने कहा कि बोर्ड की पूरी कोशिश है कि रिजल्ट सही समय पर घोषित किया जाए। उन्होंने आगे बताया कि इस मामले को लेकर हम एचआरडी मिनिस्ट्री से लगातार संपर्क में हैं। जैसे ही लॉकडाउन खुलता है एमएचआरडी की मंजूरी के बाद बचे हुए पेपर्स की परीक्षा के लिए नई डेटशीट जारी कर देंगे। बता दें कि कोरोना वायरस महामारी की वजह से लगाए लॉकडाउन के पहले तक सीबीएसई बोर्ड ने 215 में से 174 थ्योरी पेपर आयोजित करा चुका है। वहीं बचे हुए 41 पेपर में से सीबीएसई (CBSE) ने 12वीं क्लास के सिर्फ 29 सब्जेक्ट के पेपर कराने का निर्णय लिया है। अब इन परीक्षाओं की डेटशीट जारी होनी है।

रविवार को भी हो सकती है परीक्षा

इस मीटिंंग में परीक्षा नियंत्रक डॉ. संयम भारद्वाज ने मीटिंग के दौरान बताया कि रविवार को भी परीक्षा आयोजित की जा सकती है। इसके अलावा एक क्लास में अधिकतम 10 छात्रों को प्रवेश दिया जा सकता है, ऐसे निर्देश दिए जा सकते हैं। वहीं उन्होंने ऑनलाइन क्लासेज के संबंध में सख्त निर्देश दिए हैं कि ऑनलाइन कक्षाओं में 75% उपस्थिति अनिवार्य होगी। इसके अलावा सीबीएसई स्कूल पहली से आठवीं कक्षा तक के सिलेबस को ट्रिम कर सकते हैं। ये सहूलियत बोर्ड की तरफ से स्कूलों को दी गई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *