काेरोना वायरस महामारी के दौर में जब पूरे देश में लॉकडाउन है, ऐसे में एनसीईआरटी ने नई पहल करते हुए छात्रों को ऑडियो-वीडियो प्लेटफॉर्म पर डिजिटल पाठ्य पुस्तकें उपलब्ध कराई हैं. जानें- कैसे कर सकेंगे पढ़ाई.

काेरोना वायरस संक्रमण के चलते देशभर में लॉकडाउन है. ऐसे में स्कूलों द्वारा ऑनलाइन पढ़ाई करवाई जा रही है. लेकिन लॉकडाउन के कारण बड़ी संख्या में छात्रों को उनके कोर्स की किताबें नहीं मिल पाई हैं. ऐसे में एनसीईआरटी की ओर से छात्रों को ऑडियो-वीडियो प्लेटफॉर्म पर डिजिटल पाठ्य पुस्तकें उपलब्ध कराई जा रही हैं.

एनसीईआरटी (National Council of Educational Research and Training) की ओर से छात्रों के लिए ऑडियो-वीडियो प्लेटफॉर्म पर भी पुस्तकें उपलब्ध कराने की प्रक्रिया शुरू की जा चुकी है. ये सुविधा छात्रों के लिए पूरी तरह फ्री होगी. इससे पहले भी एनसीईआरटी ने सभी किताबें डिजिटल प्लेटफॉर्म पर पूरी तरह फ्री कर दी थीं.

केंद्रीय मानव संसाधन विकास मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक ने कहा है कि ई-पाठशाला वेबसाइट एवं मोबाइल एप पर डिजिटल पुस्तकें उपलब्ध कराई गई हैं. एनसीईआरटी के एक वरिष्ठ अधिकारी के मुताबिक ई-पाठशाला वेबसाइट पर पुस्तकों को कई भाषाओं में उपलब्ध करवाया गया है.

इस प्लेटफॉर्म पर कक्षा 1 से लेकर 12वीं तक एनसीईआरटी की सभी विषयों की पुस्तकें मौजूद है. प्रत्येक राज्य के छात्र जिस भाषा में अपने पाठ्यक्रम को पढ़ते हैं वह उसी भाषा में इन पुस्तकों को यहां हासिल कर सकते हैं.

मानव संसाधन विकास मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक ने छात्रों के साथ हुई ऑनलाइन चर्चा में कहा था कि एनसीईआरटी की किताबें सभी छात्रों को मुहैया हो सके इसके लिए आवश्यक निर्देश दिए गए हैं. किताबों की कोई कमी नहीं है प्रत्येक राज्य में छात्रों को किताबें उपलब्ध कराने के निर्देश दिए गए हैं और प्रत्येक राज्य में पर्याप्त पुस्तकें उपलब्ध करवाई गई हैं.

इन हालातों में बच्चों की पढ़ाई का नुकसान न हो इसके लिए केंद्रीय मानव संसाधन विकास विभाग (MHRD) ने एनसीईआरटी (NCERT) के साथ मिलकर एक अल्टरनेटिव एकेडमिक कैलेंडर भी जारी किया है. वैसे क्लास 1 से 5 के लिए ये कैलेंडर पहले ही जारी किया जा चुका है. यहां आप दोनों ही एकेडमिक कैलेंडर देख सकते हैं.

इस लिंक से देखें NCERT class 6 to 8 alternative academic calendar

इस लिंक से देखें NCERT class 1 to 5 academic Calender

बता दें कि क्लास 6 से 8वीं तक का अल्टरनेटिव एकेडमिक कैलेंडर जारी किया गया है. केंद्रीय मानव संसाधन विकास मंत्री डॉ. रमेश पोखरियाल निशंक ने कहा है कि जल्द ही क्लास 9वीं से लेकर 12वीं तक का भी ऐसा एक कैलेंडर जारी किया जाएगा.

यह कैलेंडर खास तरीके से तैयार किया गया है. कैलेंडर के अनुसार जिन घरों में डेस्कटॉप, लैपटॉप या एक से ज्यादा स्मार्टफोन या ऑनलाइन क्लास के लिए अन्य जरूरी सुविधाएं उपलब्ध नहीं हैं, वहां भी बच्चों की पढ़ाई नहीं रुकेगी. ये कैलेंडर इस तरह बना है कि पैरेंट्स भी टीचर्स से बात कर, प्लान समझकर बच्चों को घर पर पढ़ा सकते हैं.

ये है कैलेंडर में नया बदलाव

एनसीईआरटी ने ये कैलेंडर अगले चार हफ्तों के स्टडी प्लान के साथ तैयार किया है. कैलेंडर के अनुसार किस सप्ताह में बच्चों को किस तरह, किस विषय का कौन-सा टॉपिक पढ़ाया जाना है, इसकी डिटेल दी गई है.

इसमें ये भी बताया गया है कि बच्चों को आप वह टॉपिक किस तरह से पढ़ा सकते हैं. बता दें कि लॉकडाउन के दौरान आप घर पर बच्चों से कौन-कौन सी गतिविधियां करा सकते हैं. लॉकडाउन के इस समय में किस तरह से मानसिक तनाव कम कर सकते हैं. इसके बारे में भी बताया गया है.

NCERT ने ये कैलेंडर जारी करते हुए लिखा कि अभी कुछ सप्ताह का स्टडी प्लान तैयार किया गया है. अगर हालात सामान्य नहीं होते हैं, तो इसके मद्देनजर आगे का स्टडी प्लान फिर से जारी किया जाएगा.

कैलेंडर में कौन से विषय

क्लास 6 के लिए – इंग्लिश, हिंदी, मैथ्स, साइंस, उर्दू, सोशल साइंस

क्लास 7 के लिए – इंग्लिश, हिंदी, मैथ्स, साइंस, उर्दू, सोशल साइंस

क्लास 8 के लिए – इंग्लिश, हिंदी, मैथ्स, साइंस, उर्दू, सोशल साइंस

इसके अलावा संस्कृत, स्वास्थ्य एवं शारीरिक शिक्षा, कला शिक्षा को भी कैलेंडर में शामिल किया गया है. बच्चों को फिट और हेल्दी रखने के लिए क्या और किस तरह किया जाना चाहिए, इस बारे में भी विस्तार से बताया गया है. अभ‍िभावक ऊपर दिए गए लिंक से नया एकेडमिक कैलेंडर डाउनलोड कर सकते हैं.