मुजफ्फरपुर: सोशल मीडिया पर केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड के नाम से ट्वीटर अकाउंट बनाकर गलत सूचनाएं फैलाई जा रही हैं। इस तरह के सौ से अधिक अकाउंट ट्वीटर और फेसबुक पर हैं। अभिभावकों ने गलत सूचनाओं को प्रसारित करने की शिकायत सीबीएसई के अधिकारियों से की। इसपर संज्ञान लेते हुए बोर्ड की ओर से कहा गया कि आधिकारिक ट्वीटर अकाउंट सीबीएसई इंडिया 29 के नाम से है।

जबकि, सीबीएसई न्यूज, सीबीएसई लेक्चर, सीबीएसई पोर्टल, सीबीएसई ओरिजनल समेत सैंकड़ों अकाउंट फर्जी तरीके से संचालित किए जा रहे हैं। लोग आधिकारिक साइट के अलावा किसी भी अकाउंट से शेयर की गई सूचना पर विश्वास नहीं करें। शिकायत मिली थी कि फर्जी तरीके से बोर्ड के लोगो का प्रयोग कर गलत सूचनाएं फैलाई जा रही हैं।

विवि के फर्जी अकाउंट से पैसे मांग रहे ठग

फेसबुक पर बीआरए बिहार विश्वविद्यालय से जुड़ी कुछ जानकारियों को डालकर कई फर्जी अकाउंट बनाए गए हैं। इनपर अखबारों में छपी खबरों को हूबहू कॉपी कर डाला जाता है। साथ ही ये ठग विद्यार्थियों से किसी भी समस्या के लिए संपर्क करने को कहते हैं। जब विद्यार्थी इनसे दिए गए नंबरों पर संपर्क करते हैं तो ये उनसे पैसे की मांग करते हैं। कई विद्यार्थियों ने झांसे में आकर पैसा भी दे दिया। लेकिन, पैसा लेते ही वह नंबर बंद हो गया। ऐसे में विद्यार्थियों को अधिक सतर्क होने की जरूरत है।

विवि का आधिकारिक अकाउंट नहीं

कुलसचिव डॉ.मनोज कुमार ने बताया कि आधिकारिक वेबसाइट को छोड़कर किसी भी सोशल साइट पर विवि का आधिकारिक अकाउंट नहीं है। ऐसे में विद्यार्थी सतर्क रहें और ठगों के झांसे में नहीं आएं।