राजस्थान में 31 हजार शिक्षकों की भर्ती को मंजूरी, REET परीक्षा के बाद शुरू होगी भर्ती

कोरोना काल में नौकरी की तलाश कर रहे युवाओं के लिए एक खुशखबरी है। राजस्थान में 31 हजार शिक्षकों की भर्ती को मंजूरी मिल गई है। इस फैसले के तहत 31 हजार तृतीय श्रेणी शिक्षकों की भर्ती को मंजूरी दी है। रीट परीक्षा होने के बाद इन शिक्षकों की भर्ती की जाएगी।

उल्लेखनीय है कि वर्ष 2020-21 के बजट भाषण में कुल 53 हजार पदों की भर्ती की घोषणा की थी। इनमें से 41 हजार पद शिक्षा विभाग के हैं। शिक्षा विभाग ने 31 हजार तृतीय श्रेणी शिक्षकों की भर्ती के संबंध में प्रस्ताव वित्त विभाग को भेजा था, जिसे मंजूरी दे दी है। इन पदों पर भर्ती से राज्य सरकार पर 2 साल तक परीवीक्षा काल में 881.61 करोड़ और इसके बाद 1717.40 करोड़ रूपये प्रतिवर्ष का वित्तीय भार आयेगा।

282 क्रमोन्नत राजकीय माध्यमिक विद्यालयों में 2489 अस्थाई पदों के सृजन को मंजूरी दे दी है। इनमें से प्रधानाध्यापक के 104, वरिष्ठ अध्यापक के 1692, अध्यापक के 411 एवं कनिष्ठ सहायक के 282 पद शामिल हैं।

शिक्षा मंत्री बोले- जल्द जारी होगा रीट का नोटिफिकेशन

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत की घोषणा के बाद राज्य के शिक्षा मंत्री गोविंद सिंह डोटासरा ने कहा कि रीट का नोटिफिकेशन जल्द ही जारी होगा। उन्होंने ट्वीट कर कहा, ” राजस्थान के लाखों बेरोजगारों को राहत देते हुए आज मुख्यमंत्री अशोक गहलोत जी ने शिक्षा विभाग द्वारा 31 हजार तृतीय श्रेणी शिक्षकों की भर्ती के संबंध में भेजे प्रस्ताव को मंजूरी दे दी है। अब बहुत जल्द #रीट परीक्षा की विज्ञप्ति जारी होगी और उसके बाद परीक्षा का आयोजन होगा।”

उल्लेखनीय है कि इस भर्ती के लिए यहां रीट परीक्षा ली जाएगी। अभ्यर्थियों को तृतीय श्रेणी शिक्षकों की भर्ती में विषय विशेषज्ञों के चयन के लिए विषय की गहन जानकारी होनी चाहिए। चूंकि तृतीय श्रेणी अध्यापक को प्रदेश के दूर-दराज क्षेत्र में अध्यापन करना होता हैं। अतः उन्हें राजस्थान के बारे में स्वाभाविक रूप से जानकारी होना आवश्यक है। इसके लिए प्रश्न-पत्र की विषयवस्तु इस प्रकार तैयार की जाएगी कि अभ्यर्थियों को राजस्थान के बारे में जानकारी हो।

उल्लेखनीय है कि मुख्यमंत्री की ओर से वर्ष 2020-21 के बजट भाषण में कुल 53 हजार पदों की भर्ती की घोषणा की थी. इन पदों में से 41 हजार पद शिक्षा विभाग के हैं. शिक्षा विभाग ने 31 हजार तृतीय श्रेणी शिक्षकों की भर्ती के संबंध में प्रस्ताव वित्त विभाग को भेजा था, जिसे अब मंजूरी दे दी गई है.

राज्य सरकार की ओर से 282 क्रमोन्नत राजकीय माध्यमिक विद्यालयों में 2489 अस्थाई पदों को भरे जाने की मंजूरी दे दी गई है। इनमें से प्रधानाध्यापक के 104, वरिष्ठ अध्यापक के 1692, अध्यापक के 411 एवं कनिष्ठ सहायक के 282 पद शामिल हैं।

Related Posts

उत्तर प्रदेश के प्रमुख पर्यटन स्थल | Tourist Places in Uttar Pradesh

उत्तर प्रदेश के प्रमुख पर्यटन स्थल | Tourist Places in UP Tourist Places in UP – उत्तर प्रदेश के प्रमुख पर्यटन स्थल निम्नलिखित हैं: मथुरा      कृष्ण जन्मभूमि ·…

उत्तर प्रदेश की प्रमुख जनजातियाँ | Tribes of Uttar Pradesh

उत्तर प्रदेश की प्रमुख जनजातियाँ | Tribes of Uttar Pradesh Tribes of Uttar Pradesh – उत्तर प्रदेश की प्रमुख जनजातियाँ निम्न प्रकार हैं: उत्तर प्रदेश की प्रमुख अनुसूचित…

उत्तर प्रदेश के प्रमुख मेले व् उत्सव / Major Fairs and Festivals of Uttar Pradesh

जब किसी एक स्थान पर बहुत से लोग किसी सामाजिक ,धार्मिक एवं व्यापारिक या अन्य कारणों से एकत्र होते हैं तो उसे मेला कहते हैं। भारतवर्ष में…

उत्तर प्रदेश के प्रमुख लोक नृत्य की सूची | Folk Dance of Uttar Pradesh

नमस्कार! दोस्तों आज के इस आर्टिकल में हम जानेंगे उत्तर प्रदेश राज्य के (Folk Dance of Uttar Pradesh) प्रमुख लोक नृत्य के बारे में, जोकि परीक्षा की…

Airports in Uttar Pradesh

इस पोस्ट में हम उत्तर प्रदेश के प्रमुख हवाई अड्डों की सूची आप सभी के साथ शेयर कर रहे हैं। तो आइये जानें उत्तर प्रदेश के प्रमुख…

भारत में प्रथम व्यक्ति (सूची)- First Person in India PDF List (Exam Notes)

भारत में हर वर्ष कई विभागों में सरकारी नौकरियां निकलती रहती है। सरकारी परीक्षाओ में बैठने वालो की संख्या भी हर वर्ष बढ़ती जा रही है। भारत…

Leave a Reply

Your email address will not be published.